लेखपाल भर्ती परीक्षा पैटर्न (UPSSSC Lekhpal Written Examination Pattern)

Lekhpal Exam Pattern 2019

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC ) के द्वारा लेखपाल भर्ती 2019 का आयोजन किया जायेगा, जिससे इस परीक्षा का स्तर कठिन होने की पूरी संभावना है, इस भर्ती में चयन का आधार लिखित परीक्षा है , जिससे इस परीक्षा में अधिक मात्रा में अभ्यर्थियों के आवेदन होंगे, लेखपाल पद के इच्छुक सभी अभ्यर्थियों को इसके लिए सही दिशा में अत्यधिक मेहनत करने की आवश्यकता है, जिससे वह मेरिट लिस्ट में अपना स्थान बना सके, आज इस पेज पर हम लेखपाल भर्ती परीक्षा पैटर्न (Lekhpal Written Examination) के विषय में विस्तार से जानकारी प्रदान कर रहे है |



लेखपाल भर्ती परीक्षा पैटर्न (UPSSSC Lekhpal Written Examination)

विषय (Subject Name) प्रश्नों की संख्या (No. of Questions) कुल अंक (Total Marks)
सामान्य ज्ञान

(General Knowledge)

25 25
गणित

(Mathematics)

25 25
सामान्य हिंदी

(General Hindi)

25 25
ग्रामीण समाज और ग्रामीण विकास

(Village Society & Development)

25 25
Total 100 100

समयावधि (Time Duration)

आयोग ने इस परीक्षा के लिए 90 मिनट निर्धारित किये है, अभ्यर्थी को 90 मिनट में 100 प्रश्नों को हल करना है | इस परीक्षा में साक्षात्कार नहीं होगा, भर्ती का आधार लिखित परीक्षा है |

यूपी लेखपाल परीक्षा पाठ्यक्रम 2019 (UP Lekhpal Examination Syllabus)

यूपी लेखपाल परीक्षा पाठ्यक्रम इस प्रकार है |

सामान्य हिंदी (General Hindi)

अलंकार, रस, समास, पर्यायवाची, विलोम, तत्सम एवं तदभव, सन्धियां, वाक्यांशों के लिए शब्द निर्माण, लोकोक्तियाँ एवं मुहावरे, वाक्य संशोधन – लिंग, वचन, कारक, वर्तनी, त्रुटि से सम्बंधित अनेकार्थी शब्द इत्यादि |

अंकगणितीय और सांख्यिकी (Arithmetic and Statistical)

संख्या प्रणाली, प्रतिशत, लाभ हानि, सांख्यिकी, तथ्यों का वर्गीकरण, आवृत्ति, आवृत्ति वितरण, सारणीकरण, संचयी आवृत्ति, तथ्यों का निर्माण, बार चार्ट, पाई चार्ट, हिस्टोग्राम, फ्रीक्वेंसी पॉलीगॉन, केंद्रीय माप: समांतर माध्य, माध्य और मोड

बीजगणित (Algebra)

एलसीएम और एचसीएफ, एलसीएम और एचसीएफ, समसामयिक समीकरण, क्वाड्रैटिक समीकरण, कारक, क्षेत्र प्रमेय के बीच संबंध

ज्यामिति (Geometry)

त्रिभुज और पायथागोरस प्रमेय, आयताकार, स्क्वायर, ट्रैपेज़ियम, समांतरोग्राम का परिधि और क्षेत्र, परिधि का परिधि और क्षेत्र

सामान्य ज्ञान (General Knowledge)

सामान्य विज्ञान, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व के वर्तमान मामलों, भारतीय इतिहास, स्वतंत्रता आंदोलन, भारतीय राजनीति और अर्थशास्त्र, विश्व भूगोल और जनसंख्या, दैनिक जीवन में होने वाली घटनाओं से प्रश्न विशेष रूप से सामान्य विज्ञान से प्रश्न पूछे जायेंगे |

भारतीय इतिहास (Indian History)

वित्तीय, सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक दलों का ज्ञान, भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के अन्तर्गत भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की प्रकृति और विशेषता के बारे में ज्ञान, राष्ट्रवाद का उदय और स्वतंत्रता के विषय में प्रश्न पूछे जा सकते है |

विश्व भूगोल (World Geography)

भारत, आर्थिक, सामाजिक, जनसांख्यिकीय मुद्दों के शारीरिक / पारिस्थितिकी के बारे में केवल सामान्य ज्ञान का परीक्षण किया जाएगा।

ग्राम समाज और विकास (Village Society And Development)

ग्राम विकास भारत, ग्राम विकास कार्यक्रम और प्रबंधन, ग्राम विकास अनुसंधान, ग्राम स्वास्थ्य योजनाएं, ग्राम सामाजिक, विकास, ग्रामीण विकास और भूमि सुधार के विषय में जानकारी होनी चाहिए |

नोट: इन विषयों के अतिरिक्त अभ्यर्थियों को कृषि का महत्व, भारतीय कृषि की प्रकृति जैसे विषयों पर विशेष ध्यान देना चाहिए, भूमि के अंतर्गत भूमि सुधार, किरायेदार सुधार और आवश्यकता के उद्देश्यों पर ध्यान देना चाहिए, किसान क्रेडिट कार्ड के बारे अवश्य जानकारी रखे |

ब्लॉक विकास अधिकारी, चकबंदी लेखपाल, लेखपाल, ग्राम विकास अधिकारी, नायब तहसीलदार आदि जैसे ग्रामीण क्षेत्रों से संबंधित महत्वपूर्ण विभाग के विषय में जानकारी होनी चाहिए |

सरकारी योजनाओं के अंतर्गत केंद्र सरकार और राज्य सरकार की सभी योजनाओं के विषय में सही से जानकारी होनी चाहिए,

कुछ योजनायें इस प्रकार से हैं-

ग्राम विकास के लिए केंद्र सरकार योजना (Center Government Scheme For Village Development)

  • आदर्श ग्राम योजना
  • सहकारी विकास योजना
  • सूखा विकास कार्यक्रम
  • एमजीएनआरईजीए
  • जवाहर ग्राम समृद्धि योजना
  • अन्नपूर्णा योजना
  • अंत्योदय अन्ना योजना
  • स्वाज धार्य योजना |
  • राजीव गांधी गांव विद्युतीकरण योजना
  • कस्तूरबा गांधी शिक्षा योजना
  • मिड डे मील प्रोग्राम
  • एनआरएलएम
  • इंदिरा आवास योजना
  • प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना
  • संसद आदर्श ग्राम योजना, आईडब्ल्यूएमपी आदि योजनाओं पर विशेष ध्यान दे

ग्राम विकास के लिए राज्य सरकार योजनाएं (State Government Schemes for Rural Development)

  • किसान पेंशन योजना
  • किसान रथ योजना
  • अम्बेडकर उर्जा कृषि सुधारीकरण योजना
  • आम आदमी बीमा योजना
  • संजीवनी परिवार योजना
  • आदर्श नगर योजना
  • वंदे मातरम् योजना
  • प्रियदर्शिनी योजना
  • शुद्ध पेयजल योजना (वर्तमान यूपी गवर्नमेंट द्वारा संचालित)
  • पेंशन योजना (वर्तमान यूपी गवर्नमेंट द्वारा संचालित)
  • प्रधानमंत्र आवास योजना (वर्तमान यूपी गवर्नमेंट द्वारा संचालित)
  • कन्या विद्या धन योजना (वर्तमान यूपी गवर्नमेंट द्वारा संचालित)

महत्वपूर्ण टिप्स (Important Tips)

  • हम सभी अभ्यर्थियों को अभी से तैयारी शुरू करने की सलाह देते है और जो विषय आपको बताये गए है, उन पर सही से ध्यान देने की आवश्यकता है
  • लेखपाल परीक्षा में हिंदी बहुत ही मुख्य भूमिका निभाएगी, इसलिए हिंदी के साहित्य और व्याकरण पर आपको विशेष ध्यान देना चाहिए
  • सामान्य ज्ञान भाग के अंतर्गत उत्तर प्रदेश का इतिहास, भूगोल और वर्तमान मामलों से प्रश्न पूछे जा सकते है, इसलिए इस प्रकार के प्रश्नों की तैयारी अच्छे से कर के परीक्षा में जाये, इस भाग में आपको उत्तर प्रदेश के सामान्य ज्ञान पर फोकस करना होगा, संभावित प्रश्न वही से पूछे जायेंगे
  • इस परीक्षा का आयोजन यूपीएसएसएससी के द्वारा किया जा रहा है, इसलिए संभवतः नकारात्मक अंकन नहीं किया जायेगा, परन्तु अधिसूचना जारी होने पर ही इसकी सही जानकारी प्राप्त हो सकती है
  • परीक्षा में 25 अंक ग्राम विकास विषय के लिए निर्धारित है, अतः इस भाग की तैयारी अच्छे से करे, इसके लिए आप ग्राम विकास से सम्बंधित लेख पढ़े और उस पर चर्चा करे
  • ग्राम विकास के प्रश्न हल करते समय हिंदी भाषा का प्रयोग करे, जिससे आपको प्रश्नों को समझने में आसानी होगी और आपका समय बचेगा
  • परीक्षा इंटरमीडिएट स्तर की आयोजित की जाएगी, परन्तु अभ्यर्थियों की संख्या अधिक होने पर स्नातक स्तर के प्रश्नों का समायोजन किया जा सकता है, इसलिए आपको उस विषय की सम्पूर्ण जानकारी होनी चाहिए तभी आप उच्च कट ऑफ़ का सामना कर पाएंगे
  • परीक्षा में अपना चयन सुनिश्चित करने के लिए अधिकतम अंक प्राप्त करने का प्रयास करे, जिससे शॉर्टलिस्टिंग करते समय आपका नाम मेरिट में आ जाये

Leave a Comment